लालू यादव को नहीं मिली राहत, बाबा-भागलपुर की भविष्यवाणी पर लगी मुहर

0
48

भागलपुर, बिहार। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता पार्टी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को जमानत के लिए अभी और इंतजार करना होगा। 11 दिसम्बर 2020 (शुक्रवार) को झारखंड उच्च न्यायालय में चारा घोटाला मामले में सुनवाई हुई।

अदालत में लालू के वकील की ओर से छह हफ्ते का वक्त मांगा गया है। अदालत ने इसकी मंजूरी दी है। यानी अब लालू प्रसाद यादव की बेल पर छह हफ्ते के बाद ही सुनवाई होगी।

अगर 11 दिसम्बर, शुक्रवार को लालू प्रसाद यादव को बेल मिलती तो वो बाहर आ सकते थे। दुमका कोषागार मामले में लालू प्रसाद यादव की ओर से जमानत की गुहार लगाई गई है। चारा घोटाले से जुड़े अन्य मामलों में इनको पहले ही जमानत मिल चुकी है। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि लालू प्रसाद यादव को जनवरी 2021 तक जेल से बाहर आने के लिए इंतजार करना पड़ सकता है।

इस सन्दर्भ में अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर ख्याति प्राप्त ज्योतिष योग शोध केन्द्र, बिहार के संस्थापक दैवज्ञ पंo आर. के. चौंधरी उर्फ बाबा-भागलपुर की भविष्यवाणी, बिहार सहित कई प्रदेशों के हिन्दी दैनिक समाचार पत्रों व वेबसाइटस न्यूज में 06 और 07 नवम्बर 2020 को प्रकाशित हुई थी।

जो बिल्कुल सत्य हो रही है। उस समय कयास लगाए जा रहे थे कि 09 नवम्बर 2020 को लालू प्रसाद यादव जमानत पर जेल से बाहर निकल जाएँगे।

आईये जानते हैं लालू प्रसाद यादव के सम्बन्ध में बाबा-भागलपुर की भविष्यवाणी। जिसका शीर्षक है:-
जेल में ही रहेंगे लालू प्रसाद, ज्योतिष की नजर में जमानत मिलना निकट भविष्य में सम्भव नहीं!
लालू प्रसाद का जन्म मेष लग्न, कर्क के चन्द्रमा तथा वृश्चिक के नवांश में हुआ है।

ग्रहों की स्थिति, दशा व गोचर के फलस्वरूप ज्ञात हो रहा है कि:- बहुत सारी बाधाओं का सामना लम्बी अवधि तक करना पड़ सकता है। जैसे कि- लालू जी के स्वास्थ्य संबंधी असमंजसता, शारीरिक कष्ट, मानसिक कष्ट, भ्रान्ति, पारिवारिक कलह, असंतोष व कानूनी उलझन तथा जीवन बाधा यानी दुःखद समय है।

इन तथ्यों का स्मरण करते हुये उचित एवं प्रभावी ज्योतिषीय उपाय शीघ्र करवाना चाहिए। जबकि समय-समय पर कुछेक शुभ, हर्ष व सफलतादायक समाचार की प्राप्ति होने का योग भी नवम्बर 2019 से चल रहा है लेकिन ग्रहों की प्रतिकूल गोचर तथा लग्न से दशमस्थ शनिदेव का भ्रमण लालू प्रसाद यादव के लिए अत्यंत प्रतिकूल है फलस्वरूप निकट भविष्य में लालू जी के जामानत की संभावना कम ही है।

अगर लालू प्रसाद यादव को जनवरी 2021 के बाद भी जेल में रहना पड़ता है तो बाबा-भागलपुर की यह भी भविष्यवाणी शत-प्रतिशत सही साबित होगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here