दिव्य बिहार
बिहार की हर जानकारी एक साथ एक जगह

Bihar Language: बिहार के ये पांच भाषाओं के बारे में आपको जरूर जानना चाहिए।

0

बिहार की भाषायें (Bihar Language): किसी भी स्थान की भाषा उस स्थान की संपत्ति में से है। बिहार एक समृद्ध भाषाई विरासत के लिए भाग्यशाली है जिसमें एक नहीं बल्कि 5 मुख्य भाषाएँ शामिल हैं। इन सभी भाषाओं का एक बड़ा इतिहास और गौरव है। हमें जानना चाहिए कि इन भाषाओं को संरक्षित करने और बढ़ावा देने के लिए ये कितने महत्वपूर्ण हैं, जिनकी जड़ें प्राचीन काल में हैं।

यह हमारी महान विरासत को बढ़ावा देने के लिए दिव्य बिहार का मिशन रहा है। यह करने के लिए कि हम आपकी भाषाओं के बारे में कुछ जानकारी लाएँ। यदि आप पहले से ही यह नहीं जानते हैं तो आपको अपनी मातृभाषा सीखने के लिए प्रेरित करें। नीचे टिप्पणी करें, आपकी मातृभाषा क्या है और आप इसके बारे में क्या जानते हैं। इन तथ्यों से अवगत कराने के लिए इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ साझा करें।

बिहार की भाषा (Bihar Language)

Bihar Language

वैसे तो बिहार को भोजपुरी भाषा के लिए जाना जाता है, लेकिन बिहार में मुख्यत: पांच भाषाएँ है. अंगिका, बज्जिका, भोजपुरी, मगही, मैथली। जिसमें सबसे ज्यादा भोजपुरी भाषा बोलै जाता है. इस पोस्ट हम आपको ऊपर दी हुए पांचों भाषाओं की जानकरी देंगे।

इसे भी पढ़ें: बिहार के मुख्यमंत्रियों की सूची

Bihar Language: अंगिका (ANGIKA)

पहले अंगिका को अंग लिपि में लिखा जाता था, लेकिन आज वर्तमान में इसे देवनागरी लिपि में लिखा जाता है. अंगिका भाषा को बोलने वालों की संख्या लगभग 30 मिलियन है. अंगिका मुख्यत: बिहार के अररिया, कटिहार, पूर्णिया, किसनगंज, मधेपुरा, सहरसा, सुपौल, भागलपुर, बांका, जमुई, मुंगेर, लखीसराय, बेगुसराय, सेखपुरा, खगरिया इत्यादि जिलों में बोला जाता है.

अंगिका के बारे में ऐसा बोला जाता है की ये विश्व सबसे पुरानी भाषाओं में से एक है. अंगिका बिहार के अलावां दूसरे देश जैसे की कंबोडिया, वियतनाम और मलेसिया में बोला जाता है.

Bihar Language: बज्जिका (BAJJIKA)

पहले बज्जिका को कैथी लिपि में लिखा जाता था, लेकिन आज वर्तमान में इसे देवनागरी लिपि में लिखा जाता है. बज्जिका भाषा को बोलने वालों की संख्या लगभग 11.5 मिलियन है. अंगिका मुख्यत: बिहार के वैशाली, मुजफ्फरपुर, शिवहर, सीतामढ़ी, समस्तीपुर, मधुबनी इत्यादि जिलों में बोला जाता है.

Bihar Language: भोजपुरी (BHOJPURI)

ये भाषा बिहार के सारण, सिवान, गोपालगंज, पूर्वी चम्पारण, पश्चिमी चम्पारण, कैमूर, भोजपुर, रोहतास, बक्सर इत्यादि जिलों में बोलै जाता है.

Bihar Language: मगही (MAGAHI)

मगही का इतिहास पहले कैथी स्क्रिप्ट में मिलता है. लेकिन ये देवनागरी में लिखा जाता है. मगही को लगभग 18 मिलियन लोग बोलते है. मगही को पटना, गया, नवादा, जहानाबाद, अरवल, औरंगाबाद, लखीसराय, शेखपुरा इत्यादि जिलों में बोलै जाता है.

Bihar Language: मैथिलि (MAITHILI)

मैथिलि का वास्तविक स्क्रिप्ट मिथिलाक्षर और तत्रिहुटा है, जो की अब देवनागरी में काफी लोकप्रिय है. मैथिली को लगभग 50 मिलियन लोग बोलते है. मैथली बिहार के दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, बेगूसराय, अररिया, सुपौल, वैशाली और सहरसा जिलें में बोला जाता है.

Comments
Loading...