एलोपैथिक डॉक्टरों ने किया स्ट्राइक तो आयुर्वेद चिकित्सकों ने कहा- हम करेंगे मुफ्त इलाज

0
258

Desk: आयुर्वेदिक चिकित्सकों को सर्जरी का अधिकार देने का विरोध में आज देशभर के एलोपैथिक चिकित्सक हड़ताल (Doctors strike) पर रहेंगे. आईएमए (IMA) के देशव्यापी हड़ताल के एलान के तहत बिहार में भी सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक डॉक्टर कामकाज ठप रखेंगे. हालांकि इमरजेंसी और कोविड (COVID) सेवाएं जारी रहेंगी. इस आह्वान में मेडिकल कॉलेज से लेकर निजी अस्पताल तक के चिकित्सक भी शामिल हैं. वहीं इस दौरान आयुर्वेद के चिकित्सकों ने मरीजों को निःशुल्क इलाज की सुविधा देने की घोषणा की है.

बता दें कि केन्द्र सरकार द्वारा आयुर्वेद डाक्टरों को सर्जरी करने की इजाजत देने संबंधी आदेश के खिलाफ इस आंदोलन में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के साथ कई दूसरे संगठन भी शामिल हैं. आईएमए के सचिव सुनील कुमार ने कहा है कि हड़ताल में आईएमए का सहयोगी संगठन जेडीएन और एमएसएन भी शामिल होगा.

पीएमसीएच के आंदोलन का नेतृत्व डॉक्टर सचिदानंद कुमार और अमरकांत झा अमर करेंगे. एनएमसीएच में डॉक्टर सहजानंद प्रसाद सिंह और डॉक्टर अजय कुमार जिम्मेवारी संभालेंगे. इसी तरह आइजीआइएमएस में डॉक्टर हरिहर दीक्षित जिम्मेवारी संभालेंगे.

वहीं आयुष मेडिकल एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. मधुरेंदु पांडेय ने आयुर्वेद पीजी को सर्जरी की अनुमति दिए जाने के विरोध में एलोपैथिक चिकित्सकों की हड़ताल को जनकल्याण विरोधी बताया है. कहा है कि आइएमए ने अपना अड़ियल रवैया नहीं छोड़ा तो एलोपैथिक डॉक्टरों का व्यवसायिक बहिष्कार किया जाएगा.

उन्होंने यह भी कहा है कि केंद्र सरकार के इस फैसले से आयुष चिकित्सकों में हर्ष है. इसके समर्थन में आयुर्वेद एवं आयुष चिकित्सक 11 दिसंबर को मुफ्त में रोगियों का इलाज करेंगे. उन्होंने कहा कि हड़ताल की स्थिति में वैकल्पिक चिकित्सा व्यवस्था हेतु सभी आयुष चिकित्सक तैयार हैं.

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here