दिव्य बिहार
बिहार की हर जानकारी एक साथ एक जगह

जेईई मेन में 99.94 परसेंटाइल के साथ पाठशाला कोचिंग संस्थान के हैरिश इकबाल खान बिहार के टॉप रैंक में शामिल ।

0

जेईई मेन में 99.94 परसेंटाइल के साथ पाठशाला कोचिंग संस्थान के हैरिश इकबाल खान बिहार के टॉप रैंक में शामिल । मिथिलांचल का नाम किया गौरवान्वित।

मिथिलांचल क्षेत्र में आईआईटी जेईई, मेडिकल एवं बोर्ड परीक्षा की तैयारी कराने वाली प्रसिद्ध कोचिंग संस्थान कटहलवाड़ी स्थित पाठशाला कोचिंग संस्थान में जेईई मेन 2021 की परीक्षा का परिणाम सोमवार देर शाम जारी होते ही पाठशाला परिवार मानों खुशी से झूम उठा। जिस लगन से पूरी टीम विपरीत परिस्थितियों में काम कर रही थी उसका नतीजा ये है पाठशाला के छात्र बिहार के टॉप रैंक में अपना स्थान प्राप्त किया हैं। सभी सफल छात्रों को सम्मानित करने के लिए मंगलवार को एक समारोह का आयोजन किया गया। इस सम्मान समारोह में पाठशाला के निदेशक श्री जितेश भगत, सभी अनुभवी शिक्षकों की टीम, पाठशाला में अध्ययनरत छात्र-छात्राएं, सभी मीडिया बंधु के साथ -साथ सभी नॉन-टीचिंग सदस्य के लोग मौजूद थे।

WhatsApp Image 2021 03 09 at 17.31.58

निदेशक आईआईटीयन श्री जितेश भगत ने परिणाम पर खुशी जताते हुए कहा कि कोरोना काल में बच्चों की पठन-पाठन को विपरीत परिस्थितियों में एक समान गति से रखना असंभव जैसा था। धन्यवाद हमारी अनुभवी शिक्षकों की टीम के अथक परिश्रम का जो अनुकूल परिस्थिति नहीं होने के वाबजूद कठिन परिश्रम करते हुए बच्चों के भविष्य के लिए दिन-रात मेहनत किये।

श्री भगत ने कहा कि यहाँ के 70 से अधिक बच्चों ने जेईई मेन परीक्षा में शानदार परसेंटाइल के साथ सफलता पायी हैं। निदेशक ने आगे कहा टॉप रैंक हासिल करने के जुनून के लिए शौक भी छोडऩे पड़ते है। बिना कुछ त्यागे सफलता नहीं मिल सकती। यह जो नतीजा देख रहे हैं यह संघर्ष की कहानी है जेईई मेन के परिणाम में टॉप रैंक हासिल करने वाले पाठशाला कोचिंग संस्थान के होनहार छात्रों एवं उनकी टीम की कठिन परिश्रम, धैर्य व लगन की बदौलत पाठशाला एवं यहां अध्ययन करने वाले छात्र – छात्राओं ने यह कारनामा बहुत कम समय में कर दिखाया।

सफल छात्रों में टॉपर हैरिश इकबाल खान ने पाठशाला के सभी शिक्षकों का धन्यवाद दिया। उन्होंने कहाँ कि शिक्षकों ने काफी मदद किया। उनके बिना ये संभव नहीं होता। माता-पिता ने खास ख्याल रखा। हर कदम पर साथ दिया। उन्होंने कहा मेरा सपना है कंप्यूटर साइंस में आईआईटी से इंजीनियरिंग करने का। अन्य टॉप रैंक हासिल करने वाले में अंशु राज 98.52 परसेंटाइल, सिद्धार्थ पौद्दार 98.18 परसेंटाइल ने कहा संस्थान के शिक्षकों ने जो विषय में स्कोर नही कर पा रहे थे उसे बेहतर तरीके से समझने का तरीका बताया और साथ-साथ स्कोर इम्प्रूव कैसे करे इनके टिप्स दिए। बेहतर तरीके से ऑनलाइन एवं ऑफलाइन शिक्षा दी। उसने सफलता का श्रेय माता-पिता, बहन व शिक्षकों को दिया। अंशु राज ने कहा आगे जा कर भारतीय विदेश सेवा में जाना चाहता हूँ।

Comments
Loading...